Sad Shayari In Hindi (Feb 2024) ! सैड शायरी ! Sad Love Shayari


Sad Shayari In Hindi (Feb 2024) ! सैड शायरी ! Sad Love Shayari
sad shayari in hindi 128

बना दो वज़ीर मुझे भी इश्क़ की दुनिया का दोसतों, वादा है मेरा हर बेवफा को सजा ऐ मौत दूंगा...।

    
 बना दो वज़ीर मुझे भी इश्क़ की दुनिया का 

 बना दो वज़ीर मुझे भी इश्क़ की दुनिया का
sad shayari in hindi 4

बिखर जाते हैं, सर से पाँव तक, वो लोग, जो किसी बेपरवाह से बे-पनाह इश्क करते है।

    
 बिखर जाते हैं,
सर से पाँव तक,
वो लोग,
जो किसी बेपरवाह 

 बिखर जाते हैं,
सर से पाँव तक,
वो लोग,
जो किसी बेपरवाह
sad shayari in hindi 89

मुझे नींद की इजाज़त भी उनकी यादों से लेनी पड़ती है, जो खुद आराम से सोये हैं, मुझे करवटों में छोड़ कर।

    
 मुझे नींद की इजाज़त भी उनकी यादों से लेनी 

 मुझे नींद की इजाज़त भी उनकी यादों से लेनी
sad shayari in hindi 17

कही मिले तो उसे यह कहना गए दिनों को भुला रहा हूँ… वह अपने वादे से फिर गया है मैं अपने वादे निभा रहा हूँ...।

    
 कही मिले तो उसे यह कहना गए दिनों को 

 कही मिले तो उसे यह कहना गए दिनों को
sad shayari in hindi 288

मुझे इश्क है बस तुमसे नाम बेवफा मत देना, गैर जान कर मुझे इल्जाम बेवजह मत देना, जो दिया है तुमने वो दर्द हम सह लेंगे मगर, किसी और को अपने प्यार की सजा मत देना ।।

sad shayari in hindi 132

जिस जिस ने मुहब्बत में, अपने महबूब को खुदा कर दिया, खुदा ने अपने वजूद को बचाने के लिए, उनको जुदा कर दिया।

    
 जिस जिस ने मुहब्बत में,
अपने महबूब को खुदा कर 

 जिस जिस ने मुहब्बत में,
अपने महबूब को खुदा कर
sad shayari in hindi 137

इतनी ठोकरे देने के लिए शुक्रिया ए-ज़िन्दगी, चलने का न सही सम्भलने का हुनर तो आ गया ।

    
 इतनी ठोकरे देने के लिए शुक्रिया ए-ज़िन्दगी,
चलने का न 

 इतनी ठोकरे देने के लिए शुक्रिया ए-ज़िन्दगी,
चलने का न
sad shayari in hindi 148

लिख देना ये अल्फाज मेरी कबर पे…, मोत अछी है मगर दिल का लगाना अच्छा नहीं...।

    
 लिख देना ये अल्फाज मेरी कबर पे…,
मोत अछी है 

 लिख देना ये अल्फाज मेरी कबर पे…,
मोत अछी है
sad shayari in hindi 67

तन्हाई की चादर ओढ़कर रातों को नींद नहीं आती हमें, गुजर जाती है हर रात किसी की बातों को याद करते करते।

    
 तन्हाई की चादर ओढ़कर रातों को नींद नहीं आती 

 तन्हाई की चादर ओढ़कर रातों को नींद नहीं आती
sad shayari in hindi 276

मेरी जगह कोई और हो तो चीख उठे, मैं अपने आप से इतने सवाल करता हूँ।

sad shayari in hindi 158

कहने को कुछ नहीं … आह भी चुप सी घुट रही है सीने में”।

    
 कहने को कुछ नहीं …
आह भी चुप सी घुट 

 कहने को कुछ नहीं …
आह भी चुप सी घुट
sad shayari in hindi 95

हमे क्या पता था, आसमान इस कदर रो पडेगा, हमने तो बस उसे अपनी दास्तां सुनाई थी।

    
 हमे क्या पता था,
आसमान इस कदर रो पडेगा,
हमने तो 

 हमे क्या पता था,
आसमान इस कदर रो पडेगा,
हमने तो
sad shayari in hindi 117

है कोई वकील इस जहान में, जो हारा हुआ इश्क जीता दे मुझको।

    
 है कोई वकील इस जहान में,
जो हारा हुआ इश्क 

 है कोई वकील इस जहान में,
जो हारा हुआ इश्क
sad shayari in hindi 217

लोग कहते हैं दुःख बुरा होता है, जब भी आता है रुलाता है। मगर हम कहते हैं दुःख अच्छा होता है, जब भी आता है कुछ सिखाता है।

    
 लोग कहते हैं दुःख बुरा होता है,
जब भी आता 

 लोग कहते हैं दुःख बुरा होता है,
जब भी आता
sad shayari in hindi 6

“ज़िन्दगी में सबसे ज्यादा दुख दिल टूटने पर नही भरोसा टूटने पर होता है, क्योंकि हम किसी पर भरोसा कर के ही दिल लगाते है।”।

sad shayari in hindi 34

हर दर्द का इलाज़ मिलता था जिस बाज़ार में, मोहब्बत का नाम लिया तो दवाख़ाने बन्द हो गये।

    
 हर दर्द का इलाज़ मिलता था जिस बाज़ार में,
मोहब्बत 

 हर दर्द का इलाज़ मिलता था जिस बाज़ार में,
मोहब्बत
sad shayari in hindi 195

परिसथिति एक ऐसी चीज है जो इऩसान को सबकुछ सीखा देती है, बचपन मे ही बड़ा बना देती है।

    
 परिसथिति एक ऐसी चीज है जो इऩसान को सबकुछ 

 परिसथिति एक ऐसी चीज है जो इऩसान को सबकुछ
sad shayari in hindi 121

इतने बुरे ना थे जो ठुकरा दिया तुमने हमेँ, तेरे अपने फैसले पर एक दिन तुझे भी अफसोस होगा।

    
 इतने बुरे ना थे जो ठुकरा दिया तुमने हमेँ,
तेरे 

 इतने बुरे ना थे जो ठुकरा दिया तुमने हमेँ,
तेरे
sad shayari in hindi 225

ये मेरी महोब्बत और उसकी नफरत का मामला है, ऐ मेरे नसीब तू बीच में दखल-अंदाज़ी मत कर।

    
 ये मेरी महोब्बत और उसकी नफरत का मामला है,
ऐ 

 ये मेरी महोब्बत और उसकी नफरत का मामला है,
ऐ
sad shayari in hindi 21

रहता तो नशा तेरी यादों का ही है, कोई पूछे तो कह देता हूँ पी राखी है।

sad shayari in hindi 154

बिछड़ने वाले तेरे लिए, एक “मशवरा” है, कभी हमारा “ख्याल” आए, तो अपना ‘ख्याल’ रखना।।

    
 बिछड़ने वाले तेरे लिए,
एक “मशवरा” है,
कभी हमारा “ख्याल” आए,
तो 

 बिछड़ने वाले तेरे लिए,
एक “मशवरा” है,
कभी हमारा “ख्याल” आए,
तो
sad shayari in hindi 208

इसे इत्तेफाक समझो या दर्दनाक हकीकत, आँख जब भी नम हुई, वजह कोई अपना ही निकला।

    
 इसे इत्तेफाक समझो या दर्दनाक हकीकत,
आँख जब भी नम 

 इसे इत्तेफाक समझो या दर्दनाक हकीकत,
आँख जब भी नम
sad shayari in hindi 162

जिस रोज तेरे चाहने वालो को तू बेहद बुरी लगेगी, उस दिन भी तू हमे बेहद खूबसूरत लगेगी।

    
 जिस रोज तेरे चाहने वालो को तू बेहद बुरी 

 जिस रोज तेरे चाहने वालो को तू बेहद बुरी
sad shayari in hindi 282

उसकी मोहब्बत का सिलसिला भी क्या अजीब था, अपना भी नही बनाया और किसी और का भी ना होने दिया।

    
 उसकी मोहब्बत का सिलसिला भी क्या अजीब था,
अपना भी 

 उसकी मोहब्बत का सिलसिला भी क्या अजीब था,
अपना भी
sad shayari in hindi 213

लिख देना ये अल्फाज मेरी कबर पे…, मोत अछी है मगर दिल का लगाना अच्छा नहीं...।

sad shayari in hindi 115

सुकून ऐ दिल के लिए कभी हाल तो पूँछ ही लिया करो, मालूम तो हमें भी है कि हम आपके कुछ नहीं लगते...।

    
 सुकून ऐ दिल के लिए कभी हाल तो पूँछ 

 सुकून ऐ दिल के लिए कभी हाल तो पूँछ
sad shayari in hindi 160

वो मतलब से मिलते थे और हमे तो बस मिलने से मतलब था।

    
 वो मतलब से मिलते थे और हमे तो बस 

 वो मतलब से मिलते थे और हमे तो बस
sad shayari in hindi 119

देख कर उसको तेरा यूँ पलट जाना, …, नफरत बता रही है तूने मोहब्बत गज़ब की थी।

    
 देख कर उसको तेरा यूँ पलट जाना,
…,
नफरत बता रही 

 देख कर उसको तेरा यूँ पलट जाना,
…,
नफरत बता रही
sad shayari in hindi 22

मत पूछ मुझे… ……, क्या गम है, तेरे वादे पे ज़िंदा हूँ, क्या कम है।

    
 मत पूछ मुझे…
……,
क्या गम है,
तेरे वादे पे ज़िंदा हूँ,
क्या 

 मत पूछ मुझे…
……,
क्या गम है,
तेरे वादे पे ज़िंदा हूँ,
क्या
sad shayari in hindi 125

क्या लिखूँ दिल की हकीकत आरज़ू बेहोश है, ख़त पर हैं आँसू गिरे और कलम खामोश है।

sad shayari in hindi 285

कभी ग़म तो कभी तन्हाई मार गयी, कभी याद आ कर उनकी जुदाई मार गयी, बहुत टूट कर चाहा जिसको हमने, आखिर में उनकी ही बेवफाई मार गयी।

    
 कभी ग़म तो कभी तन्हाई मार गयी,
कभी याद आ 

 कभी ग़म तो कभी तन्हाई मार गयी,
कभी याद आ
sad shayari in hindi 281

बेवफाई उसकी दिल से मिटा के आया हूँ, ख़त भी उसके पानी में बहा के आया हूँ, कोई पढ़ न ले उस बेवफा की यादों को, इसलिए पानी में भी आग लगा कर आया हूँ।

    
 बेवफाई उसकी दिल से मिटा के आया हूँ,
ख़त भी 

 बेवफाई उसकी दिल से मिटा के आया हूँ,
ख़त भी
sad shayari in hindi 187

उसने महबूब ही तो बदला है ताज्जूब कैसा * * दूआ कबूल ना हो तो लोग खूदा भी बदल लेते हैं।

    
 उसने महबूब ही तो बदला है ताज्जूब कैसा * 

 उसने महबूब ही तो बदला है ताज्जूब कैसा *
sad shayari in hindi 66

आदत बदल सी गई है वक्त काटने की, हिम्मत ही नहीं होती अपना दर्द बांटने की।

    
 आदत बदल सी गई है वक्त काटने की,
हिम्मत ही 

 आदत बदल सी गई है वक्त काटने की,
हिम्मत ही
sad shayari in hindi 73

सुना था मोहब्बत मिलती है, मोहब्बत के बदले, हमारी बारी आई तो, रिवाज ही बदल गया।

sad shayari in hindi 77

माना मौसम भी बदलते है मगर धीरे-धीरे, तेरे बदलने की रफ़्तार से तो हवाएं भी हैरान है।

    
 माना मौसम भी बदलते है मगर धीरे-धीरे,
तेरे बदलने की 

 माना मौसम भी बदलते है मगर धीरे-धीरे,
तेरे बदलने की
sad shayari in hindi 258

काश ये सिलसिला हो जाए, मैं मिट जाऊं या फासला घट जाए।

    
 काश ये सिलसिला हो जाए,
मैं मिट जाऊं या फासला 

 काश ये सिलसिला हो जाए,
मैं मिट जाऊं या फासला
sad shayari in hindi 124

इश्क वो खेल नहीं जो छोटे दिल वाले खेलें, रूह तक काँप जाती है, सदमे सहते-सहते।

    
 इश्क वो खेल नहीं जो छोटे दिल वाले खेलें,
रूह 

 इश्क वो खेल नहीं जो छोटे दिल वाले खेलें,
रूह
sad shayari in hindi 49

दर्द मुझको ढूंढ लेता है, रोज नए बहाने से, वो हो गया वाकिफ़, मेरे हर ठिकाने से।

    
 दर्द मुझको ढूंढ लेता है,
रोज नए बहाने से,
वो हो 

 दर्द मुझको ढूंढ लेता है,
रोज नए बहाने से,
वो हो
sad shayari in hindi 146

चली जाने दो उसे किसी ओर कि बाहों मे ।। इतनी चाहत के बाद जो मेरी ना हुई, वो किसी ओर कि क्या होगी ।

sad shayari in hindi 295

दर्द ही सही मेरे इश्क़ का इनाम तो आया, खाली ही सही होठों तक जाम तो आया, मैं हूँ बेवफा सबको बताया उसने, यूँ ही सही चलो उसके लबों पर मेरा नाम तो आया।

    
 दर्द ही सही मेरे इश्क़ का इनाम तो आया,
खाली 

 दर्द ही सही मेरे इश्क़ का इनाम तो आया,
खाली
sad shayari in hindi 19

सिलसिले की उम्मीद थी उनसे , वही फाँसले बढ़ाते गए , हम तो पास आने की कोशिश में थे। ना जाने क्यों वह हमसे दूरियाँ बढ़ाते गए।

    
 सिलसिले की उम्मीद थी उनसे ,
वही फाँसले बढ़ाते गए 

 सिलसिले की उम्मीद थी उनसे ,
वही फाँसले बढ़ाते गए
sad shayari in hindi 42

मैं तो रह लूंगा तुझसे बिछड़ कर तन्हा भी, बस दिल का सोचता हूँ, कहीं धडकना न छोड़ दे।

    
 मैं तो रह लूंगा तुझसे बिछड़ कर तन्हा भी,
बस 

 मैं तो रह लूंगा तुझसे बिछड़ कर तन्हा भी,
बस
sad shayari in hindi 44

छोड़ दिया हमने तेरे ख्यालों में जीना, अब हम लोगों से नहीं, लोग हमसे मोहब्बत करते है।

    
 छोड़ दिया हमने तेरे ख्यालों में जीना,
अब हम लोगों 

 छोड़ दिया हमने तेरे ख्यालों में जीना,
अब हम लोगों
sad shayari in hindi 106

हम अल्फाजो से खेलते रह गए, और वो दिल से खेल के चली गईं।

sad shayari in hindi 85

आखिर क्यों बस जाते हैं दिल में, बिना इजाज़त लिए वो लोग, जिन्हे हम ज़िन्दगी में कभी पा, नहीं सकते।

    
 आखिर क्यों बस जाते हैं दिल में,
बिना इजाज़त लिए 

 आखिर क्यों बस जाते हैं दिल में,
बिना इजाज़त लिए
sad shayari in hindi 74

दुनिया फ़रेब करके हुनरमंद हो गई… हम ऐतबार करके गुनाहगार हो गए...।

    
 दुनिया फ़रेब करके हुनरमंद हो गई…
हम ऐतबार करके गुनाहगार 

 दुनिया फ़रेब करके हुनरमंद हो गई…
हम ऐतबार करके गुनाहगार
sad shayari in hindi 54

बहुत मासूम होते है ये आँसू भी, ये गिरते उनके लिए है, जिन्हें परवाह नहीं होती।

    
 बहुत मासूम होते है ये आँसू भी,
ये गिरते उनके 

 बहुत मासूम होते है ये आँसू भी,
ये गिरते उनके
sad shayari in hindi 25

निकाल दिया उसने हमें अपनी जिंदगी से, भीगे कागज़ की तरह, न लिखने के काबिल छोड़ा न जलने के।

    
 निकाल दिया उसने हमें अपनी जिंदगी से,
भीगे कागज़ की 

 निकाल दिया उसने हमें अपनी जिंदगी से,
भीगे कागज़ की
sad shayari in hindi 150

दोस्तो होली आई और चली भी गई थोड़ी देर बाद रंग भी उतर गया, ये होली बिल्कुल उसकी तरह निकली।

sad shayari in hindi 219

वो रो रो कर कहती रही, मुझे नफरत है तुमसे, मगर एक सवाल आज भी परेशान किये हुए है की अगर इतनी नफरत ही थी तो, वो रोई क्यों…।

    
 वो रो रो कर कहती रही,
मुझे नफरत है तुमसे,
मगर 

 वो रो रो कर कहती रही,
मुझे नफरत है तुमसे,
मगर
sad shayari in hindi 257

फायदा बहुत गिरी हुई चीज है, लोग उठाते ही रहते हैं।

    
 फायदा बहुत गिरी हुई चीज है,
लोग उठाते ही रहते 

 फायदा बहुत गिरी हुई चीज है,
लोग उठाते ही रहते
sad shayari in hindi 238

कुछ हार गई तकदीर कुछ टूट गये सपने, कुछ गैरों ने किया बरबाद कुछ भूल गये अपने।

    
 कुछ हार गई तकदीर कुछ टूट गये सपने,
कुछ गैरों 

 कुछ हार गई तकदीर कुछ टूट गये सपने,
कुछ गैरों
sad shayari in hindi 200

क्यों घबराता है पगले दुःख होने से जीवन तो प्रारम्भ ही हुआ है रोने से...।

    
 क्यों घबराता है पगले दुःख होने से जीवन तो 

 क्यों घबराता है पगले दुःख होने से जीवन तो
sad shayari in hindi 31

अच्छा है आँसुओं का रंग नहीं होता, वरना सुबह के तकिये रात का हाल बयां कर देते।

sad shayari in hindi 20

कभी फुर्सत मिले तो सोचना जरूर, एक लापरवाह लड़का क्यों तेरी परवाह करता था...।

    
 कभी फुर्सत मिले तो सोचना जरूर,
एक लापरवाह लड़का क्यों 

 कभी फुर्सत मिले तो सोचना जरूर,
एक लापरवाह लड़का क्यों
sad shayari in hindi 59

शायरी के लिए कुछ ख़ास नहीं चाहिए, एक यार चाहिए और वो भी दगाबाज चाहिए।

    
 शायरी के लिए कुछ ख़ास नहीं चाहिए,
एक यार चाहिए 

 शायरी के लिए कुछ ख़ास नहीं चाहिए,
एक यार चाहिए
sad shayari in hindi 205

जख्म बन जाने की आदत है उन्हें रुला कर मुस्कुराने की आदत है उन्हें ; मिलेंगे कभी तो खूब रुलाएंगे सुना हैं रोते हुए लिपट जाने की आदत है उन्हें ।

    
 जख्म बन जाने की आदत है उन्हें रुला कर 

 जख्म बन जाने की आदत है उन्हें रुला कर
sad shayari in hindi 263

बुला रहा है कौन मुझको उस तरफ, मेरे लिए भी क्या कोई उदास बेक़रार है।

    
 बुला रहा है कौन मुझको उस तरफ,
मेरे लिए भी 

 बुला रहा है कौन मुझको उस तरफ,
मेरे लिए भी
sad shayari in hindi 169

दिन भर भटकते रहते हैं अरमान तुझ से मिलने के न दिल ठहरता है न इंतज़ार रुकता है।

sad shayari in hindi 30

पलकों की हद तोड़ के, दामन पे आ गिरा, एक आसूं मेरे सब्र की, तोहीन कर गया।

    
 पलकों की हद तोड़ के,
दामन पे आ गिरा,
एक आसूं 

 पलकों की हद तोड़ के,
दामन पे आ गिरा,
एक आसूं
sad shayari in hindi 188

चल आ तेरे पैरो पर मरहम लगा दूं ऐ मुक़द्दर, कुछ चोटे तुझे भी आई होगी, मेरे सपनो को ठोकर मारकर।

    
 चल आ तेरे पैरो पर मरहम लगा दूं ऐ 

 चल आ तेरे पैरो पर मरहम लगा दूं ऐ
sad shayari in hindi 229

मुझसे खुशनसीब हैं मेरे लिखे ये लफ्ज, जिनको कुछ देर तक पढ़ेगी निगाहे तेरी।

    
 मुझसे खुशनसीब हैं मेरे लिखे ये लफ्ज,
जिनको कुछ देर 

 मुझसे खुशनसीब हैं मेरे लिखे ये लफ्ज,
जिनको कुछ देर
sad shayari in hindi 96

याद में नशा करता हूँ… और नशे में याद करता हूँ...।

    
 याद में नशा करता हूँ…
और नशे में याद करता 

 याद में नशा करता हूँ…
और नशे में याद करता
sad shayari in hindi 110

बड़े अजीब से इस दुनिया के मेले हैं, यूँ तो दिखती भीड़ है, पर फिर भी सब अकेले हैं...।

sad shayari in hindi 245

कांच के दिल थे जिनके उनके दिल टूट गए, हमारा दिल था मोम का पिघलता ही चला गया।

    
 कांच के दिल थे जिनके उनके दिल टूट गए,
हमारा 

 कांच के दिल थे जिनके उनके दिल टूट गए,
हमारा
sad shayari in hindi 141

आपको ज़ीद हे अगर हमे भूलने की तो, हमे भी ज़ीद हे आपको अपनी याद दिलाने की।

    
 आपको ज़ीद हे अगर हमे भूलने की तो,
हमे भी 

 आपको ज़ीद हे अगर हमे भूलने की तो,
हमे भी
sad shayari in hindi 180

कौन खरीदेगा अब हीरो के दाम में तुम्हारे आँसु ;वो जो दर्द का सौदागर था, मोहब्बत छोड़ दी उसने ।

    
 कौन खरीदेगा अब हीरो के दाम में तुम्हारे आँसु 

 कौन खरीदेगा अब हीरो के दाम में तुम्हारे आँसु
sad shayari in hindi 47

दुआ करना दम भी उसी तरह निकले, जिस तरह तेरे दिल से हम निकले।

    
 दुआ करना दम भी उसी तरह निकले,
जिस तरह तेरे 

 दुआ करना दम भी उसी तरह निकले,
जिस तरह तेरे
sad shayari in hindi 36

छोड़कर अपनी यादों की निशानियां मेरे दिल में, वो भी चले गये वक्त की तरह।

sad shayari in hindi 251

बहुत अंदर तक बसा था वो शख़्स मेरे, उसे भूलने के लिए बड़ा वक़्त चाहिए।

    
 बहुत अंदर तक बसा था वो शख़्स मेरे,
उसे भूलने 

 बहुत अंदर तक बसा था वो शख़्स मेरे,
उसे भूलने
sad shayari in hindi 224

अजीब सा दर्द है इन दिनों यारों, न बताऊं तो ‘कायर’, बताऊँ तो ‘शायर’।

    
 अजीब सा दर्द है इन दिनों यारों,
न बताऊं तो 

 अजीब सा दर्द है इन दिनों यारों,
न बताऊं तो
sad shayari in hindi 261

कुछ तो सोचा होगा कायनात ने तेरे-मेरे रिश्ते पर, वरना इतनी बड़ी दुनिया में तुझसे ही बात क्यों होती।

    
 कुछ तो सोचा होगा कायनात ने तेरे-मेरे रिश्ते पर,
वरना 

 कुछ तो सोचा होगा कायनात ने तेरे-मेरे रिश्ते पर,
वरना
sad shayari in hindi 190

डूबे हुओं को हमने बिठाया था अपनी कश्ती में यारो…, और फिर कश्ती का बोझ कहकर, हमे ही उतारा गया...।

    
 डूबे हुओं को हमने बिठाया था अपनी कश्ती में 

 डूबे हुओं को हमने बिठाया था अपनी कश्ती में
sad shayari in hindi 78

ज़िन्दगी की हर शाम, हसीन हो जाए… अगर मेरी मोहब्बत मुझे, नसीब हो जाये...।

sad shayari in hindi 61

शीशे में डूब कर, पीते रहे उस “जाम” को, कोशिशें तो बहुत की मगर, भुला ना पाए एक “नाम” को।

    
 शीशे में डूब कर,
पीते रहे उस “जाम” को,
कोशिशें तो 

 शीशे में डूब कर,
पीते रहे उस “जाम” को,
कोशिशें तो
sad shayari in hindi 14

वो नज़र कहाँ से लाऊँ जो तुम्हे भुला दे, वो दवा कहाँ से लाऊँ जो इस दर्द को मिटा दे, मिलना तो लिखा रहता है तक़्दीरों में, पर वो तक़दीर कहाँ से लॉन जो हम दोनों को मिला दे।

    
 वो नज़र कहाँ से लाऊँ जो तुम्हे भुला दे,
वो 

 वो नज़र कहाँ से लाऊँ जो तुम्हे भुला दे,
वो
sad shayari in hindi 13

ना हम रहे दिल लगाने काबिल, ना दिल रहा ग़म उठाने काबिल, लगे उसकी यादों के जो ज़ख्म दिल पर, ना छोड़ा उसमे मुस्कुराने के काबिल।।

    
 ना हम रहे दिल लगाने काबिल,
ना दिल रहा ग़म 

 ना हम रहे दिल लगाने काबिल,
ना दिल रहा ग़म
sad shayari in hindi 156

धोखा देने के लिए ‪ ‎शुक्रिया‬ पगली कि ‪ ‎तुम‬ ना मिलती तो ‪ ‎दुनियासमझ‬ में ‪ ‎ना‬ आती।

    
 धोखा देने के लिए ‪ ‎शुक्रिया‬ पगली कि ‪ 

 धोखा देने के लिए ‪ ‎शुक्रिया‬ पगली कि ‪
sad shayari in hindi 104

Jab mera waqt mujhse naraz hai, Toh mere azeez bhi mere khilaaf hai।

sad shayari in hindi 8

“तेरी मोहब्बत को कभी खेल नहीं समझा, वरना खेल तो इतने खेले है मैंने कि कभी भी हारा नहीं”।

    
 “तेरी मोहब्बत को कभी खेल नहीं समझा,
वरना खेल तो 

 “तेरी मोहब्बत को कभी खेल नहीं समझा,
वरना खेल तो
sad shayari in hindi 100

सामने मंजिल तो रास्ते ना मोड़ना । जो मन मे हो वो ख्वाब ना तोड़ना । हर कदम पर मिलेगी सफलता । बस आसमान छूने के लिए जमीन ना छोड़ना ।

    
 सामने मंजिल तो रास्ते ना मोड़ना ।
जो मन मे 

 सामने मंजिल तो रास्ते ना मोड़ना ।
जो मन मे
sad shayari in hindi 46

मुस्कुराने की आदत भी कितनी महँगी पड़ी हमे, छोड़ गया वो ये सोच कर की हम जुदाई मे भी खुश हैं।

    
 मुस्कुराने की आदत भी कितनी महँगी पड़ी हमे,
छोड़ गया 

 मुस्कुराने की आदत भी कितनी महँगी पड़ी हमे,
छोड़ गया
sad shayari in hindi 275

मेरी कोशिश कभी कामयाब ना हो सकी, न तुझे पाने की न तुझे भुलाने की।

    
 मेरी कोशिश कभी कामयाब ना हो सकी,
न तुझे पाने 

 मेरी कोशिश कभी कामयाब ना हो सकी,
न तुझे पाने
sad shayari in hindi 283

तेरे प्यार का सिला हर हाल में देंगे, खुदा भी मांगे ये दिल तो टाल देंगे, अगर दिल ने कहा तुम बेवफ़ा हो, तो इस दिल को भी सीने से निकाल देंगे।

sad shayari in hindi 98

चाहते हैं वो हर रोज नया चाहने वाले, खुदा मुझे रोज इक नई सूरत दे दे।

    
 चाहते हैं वो हर रोज नया चाहने वाले,
खुदा मुझे 

 चाहते हैं वो हर रोज नया चाहने वाले,
खुदा मुझे
sad shayari in hindi 175

शायरी लिखना बंद कर दूंगा अब मैं यारो…, मेरी शायरी की वजह से दोस्तों की आँखों में आंसू अब देखे नहीं जाते...।

    
 शायरी लिखना बंद कर दूंगा अब मैं यारो…,
मेरी शायरी 

 शायरी लिखना बंद कर दूंगा अब मैं यारो…,
मेरी शायरी
sad shayari in hindi 280

भूलकर हमें अगर तुम रहते हो सलामत, तो भूलके तुमको संभालना हमें भी आता है, मेरी फ़ितरत में ये आदत नहीं है वरना, तेरी तरह बदल जाना मुझे भी आता है।

    
 भूलकर हमें अगर तुम रहते हो सलामत,
तो भूलके तुमको 

 भूलकर हमें अगर तुम रहते हो सलामत,
तो भूलके तुमको
sad shayari in hindi 2

बेखबर, बेवजह बेरुखी ना किया कर, कोई टूट जाता है तेरा लहजा बदलने से।

    
 बेखबर,
बेवजह बेरुखी ना किया कर,
कोई टूट जाता है तेरा 

 बेखबर,
बेवजह बेरुखी ना किया कर,
कोई टूट जाता है तेरा
sad shayari in hindi 68

मैं अक्सर रात में यूं ही सड़क पर निकल आता हूँ, यह सोचकर की कहीं , चाँद को तन्हाई का अहसास न हो।

sad shayari in hindi 273

मिजाज को बस तल्खियाँ ही रास आईं, हम ने कई बार मुस्कुरा कर देख लिया।

    
 मिजाज को बस तल्खियाँ ही रास आईं,
हम ने कई 

 मिजाज को बस तल्खियाँ ही रास आईं,
हम ने कई
sad shayari in hindi 204

तेरे शहर के कारीगर बङे अजीब हैं ए दिल, , काँच की मरम्मत करते हैं पत्थर के औजारों से ...।

    
 तेरे शहर के कारीगर बङे अजीब हैं ए दिल,
,
काँच 

 तेरे शहर के कारीगर बङे अजीब हैं ए दिल,
,
काँच
sad shayari in hindi 79

लम्हा दर लम्हा साथ, उम्र बीत ज़ाने तक, मोहब्बत वहीं हैं ज़ो चले, मौत आने तक...।

    
 लम्हा दर लम्हा साथ,
उम्र बीत ज़ाने तक,
मोहब्बत वहीं हैं 

 लम्हा दर लम्हा साथ,
उम्र बीत ज़ाने तक,
मोहब्बत वहीं हैं
sad shayari in hindi 168

ये नक़ाब तुम्हारे झुठ का उतरेगा जिस दिन खुद से नज़रें मिलाने को तरसोगे उस दिन।

    
 ये नक़ाब तुम्हारे झुठ का उतरेगा जिस दिन खुद 

 ये नक़ाब तुम्हारे झुठ का उतरेगा जिस दिन खुद
sad shayari in hindi 223

जब मिलो किसी से तो जरा दूर का रिश्ता रखना, बहुत तङपाते है अक्सर सीने से लगाने वाले।

sad shayari in hindi 92

उदास कर देती है हर रोज ये बात मुझे, ऐसा लगता है भूल रहा है कोई मुझे धीरे-धीरे...।

    
 उदास कर देती है हर रोज ये बात मुझे,
ऐसा 

 उदास कर देती है हर रोज ये बात मुझे,
ऐसा
sad shayari in hindi 268

देखी है बेरुखी की आज हम ने इन्तेहाँ, हमपे नजर पड़ी तो वो महफ़िल से उठ गए।

    
 देखी है बेरुखी की आज हम ने इन्तेहाँ,
हमपे नजर 

 देखी है बेरुखी की आज हम ने इन्तेहाँ,
हमपे नजर
sad shayari in hindi 236

महफिल लगी थी बद-दुआओं की, हमने भी दिल से कहा, उसे इश्क़ हो, उसे इश्क़ हो, उसे इश्क़ हो।

    
 महफिल लगी थी बद-दुआओं की,
हमने भी दिल से कहा,
उसे 

 महफिल लगी थी बद-दुआओं की,
हमने भी दिल से कहा,
उसे
sad shayari in hindi 63

किस्मत की किताब तो खूब लिखी थी मेरी खुदा ने, बस वही पन्ना गुम था जिसमें मुहब्बत का जिक्र था।

    
 किस्मत की किताब तो खूब लिखी थी मेरी खुदा 

 किस्मत की किताब तो खूब लिखी थी मेरी खुदा
sad shayari in hindi 1

सोचा था तड़पायेंगे हम उन्हें। किसी और का नाम लेके जलायेगें उन्हें। फिर सोचा मैंने उन्हें तड़पाके दर्द मुझको ही होगा। तो फिर भला किस तरह सताए हम उन्हें।

sad shayari in hindi 43

सिर्फ हम ही है तेरे दिल में, बस यही गलतफहमी हमें बर्बाद कर गई।

    
 सिर्फ हम ही है तेरे दिल में,
बस यही गलतफहमी 

 सिर्फ हम ही है तेरे दिल में,
बस यही गलतफहमी
sad shayari in hindi 93

समझदार ही करते है अक्सर गलतिया, कभी देखा है, किसी पागल को मोहब्बत करते।

    
 समझदार ही करते है अक्सर गलतिया,
कभी देखा है,
किसी पागल 

 समझदार ही करते है अक्सर गलतिया,
कभी देखा है,
किसी पागल
sad shayari in hindi 99

मौत की हिम्मत कहां थी मुझसे टकराने की कमबख्त ने मोहब्बत को मेरी सुपारी दे डाली।

    
 मौत की हिम्मत कहां थी मुझसे टकराने की कमबख्त 

 मौत की हिम्मत कहां थी मुझसे टकराने की कमबख्त
sad shayari in hindi 250

न करवटे थी न बेचैनियाँ थी, क्या गजब की नीँद थी मोहब्बत से पहले।

    
 न करवटे थी न बेचैनियाँ थी,
क्या गजब की नीँद 

 न करवटे थी न बेचैनियाँ थी,
क्या गजब की नीँद
sad shayari in hindi 247

छुप के तेरी तस्वीरें देखता हूँ, बेशक तू ख़ूबसूरत आज भी है, पर चेहरे पर वो मुस्कान नहीं, जो मैं लाया करता था।

sad shayari in hindi 222

मेरी किस्मत में तो कुछ यूँ लिखा है, किसी ने वक्त गुज़ारने के लिए अपना बनाया, तो किसी ने अपना बनाकर वक्त गुजार लिया।

    
 मेरी किस्मत में तो कुछ यूँ लिखा है,
किसी ने 

 मेरी किस्मत में तो कुछ यूँ लिखा है,
किसी ने
sad shayari in hindi 94

मौहब्बत की मिसाल में बस इतना ही कहूँगा… बेमिसाल सज़ा है, किसी बेगुनाह के लिए।

    
 मौहब्बत की मिसाल में बस इतना ही कहूँगा…
बेमिसाल सज़ा 

 मौहब्बत की मिसाल में बस इतना ही कहूँगा…
बेमिसाल सज़ा
sad shayari in hindi 97

रखा करो नजदीकियां, जिंदगी का भरोसा नहीं… फिर कहोगे चुपचाप चले गए और बताया भी नहीं...।

    
 रखा करो नजदीकियां,
जिंदगी का भरोसा नहीं… फिर कहोगे चुपचाप 

 रखा करो नजदीकियां,
जिंदगी का भरोसा नहीं… फिर कहोगे चुपचाप
sad shayari in hindi 16

रहकर तुझसे दूर , कुछ यूँ वक़्त गुज़ारा मैंने ना होंठ हिले , ना आवाज़ आई फिर भी हर वक़्त तुझको पुकारा मैंने।

    
 रहकर तुझसे दूर ,
कुछ यूँ वक़्त गुज़ारा मैंने ना 

 रहकर तुझसे दूर ,
कुछ यूँ वक़्त गुज़ारा मैंने ना
sad shayari in hindi 181

ख़ुशी कहा हम तो “गम” चाहते है, ख़ुशी उन्हे दे दो जिन्हें “हम” चाहते हे।

sad shayari in hindi 231

बिन बात के ही रूठने की आदत है, किसी अपने का साथ पाने की चाहत है, आप खुश रहें, मेरा क्या है मैं तो आईना हूँ, मुझे तो टूटने की आदत है।

    
 बिन बात के ही रूठने की आदत है,
किसी अपने 

 बिन बात के ही रूठने की आदत है,
किसी अपने
sad shayari in hindi 151

सुना है आज उस की आँखों मे आसु आ गये… … वो बच्चो को सिखा रही थी की मोहब्बत ऐसे लिखते है।

    
 सुना है आज उस की आँखों मे आसु आ 

 सुना है आज उस की आँखों मे आसु आ
sad shayari in hindi 270

काश वो समझते इस दिल की तड़प को, तो हमें यूँ रुसवा न किया जाता, यह बेरुखी भी उनकी मंज़ूर थी हमें, बस एक बार हमें समझ तो लिया होता।

    
 काश वो समझते इस दिल की तड़प को,
तो हमें 

 काश वो समझते इस दिल की तड़प को,
तो हमें
sad shayari in hindi 159

अज़ब माहौल है मेरे ‘मुल्क’ का, मज़हब थोपा जाता है, ‘इश्क’ रोका जाता है।

    
 अज़ब माहौल है मेरे ‘मुल्क’ का,
मज़हब थोपा जाता है,
‘इश्क’ 

 अज़ब माहौल है मेरे ‘मुल्क’ का,
मज़हब थोपा जाता है,
‘इश्क’
sad shayari in hindi 7

“किसी ने पूछा इतना अच्छा कैसे लिख लेते हो, मैंने कहा दिल तोड़ना पड़ता है, लफ़्ज़ों को जोड़ने से पहले”।

sad shayari in hindi 82

इन्हीं रास्तों ने जिन पर मेरे साथ, तुम चले थे… मुझे रोक के पूछा की तेरा, हमसफ़र कहाँ है...।

    
 इन्हीं रास्तों ने जिन पर मेरे साथ,
तुम चले थे…
मुझे 

 इन्हीं रास्तों ने जिन पर मेरे साथ,
तुम चले थे…
मुझे
sad shayari in hindi 147

इक बात कहूँ “इश्क”, बुरा तो नहीँ मानोगे…, बङी मौज के थे दिन, तेरी पहचान से पहले।

    
 इक बात कहूँ “इश्क”,
बुरा तो नहीँ मानोगे…,
बङी मौज के 

 इक बात कहूँ “इश्क”,
बुरा तो नहीँ मानोगे…,
बङी मौज के
sad shayari in hindi 9

“कुछ गैर मुझे ऐसे मिले जो मुझे अपना बना गए और कुछ अपने ऐसे मिले जो मुझे गैर का मतलब बता गए।”।

    
 “कुछ गैर मुझे ऐसे मिले जो मुझे अपना बना 

 “कुछ गैर मुझे ऐसे मिले जो मुझे अपना बना
sad shayari in hindi 240

ऐ मोहब्बत तू शर्म से डूब मर, तू एक शख्स को मेरा ना कर सकी।

    
 ऐ मोहब्बत तू शर्म से डूब मर,
तू एक शख्स 

 ऐ मोहब्बत तू शर्म से डूब मर,
तू एक शख्स
sad shayari in hindi 278

जिसे खुद से ही नहीं फुरसतें, जिसे खयाल अपने कमाल का, उसे क्या खबर मेरे शौक़ की, उसे क्या पता मेरे हाल का।

sad shayari in hindi 161

मंज़िलों से गुमराह भी , कर देते हैं कुछ लोग ।। हर किसी से रास्ता पूछना अच्छा नहीं होता।

    
 मंज़िलों से गुमराह भी ,
कर देते हैं कुछ लोग 

 मंज़िलों से गुमराह भी ,
कर देते हैं कुछ लोग
sad shayari in hindi 152

शक ना कर मेरी मुहब्बत परपगली...... अगर मै सबूत देने पर आया तो ... तु बदनाम हो जायेगी । .

    
 शक ना कर मेरी मुहब्बत परपगली......
अगर मै सबूत देने 

 शक ना कर मेरी मुहब्बत परपगली......
अगर मै सबूत देने
sad shayari in hindi 32

टूटे हुए दिल भी धड़कते है उम्र भर, चाहे किसी की याद में या फिर किसी फ़रियाद में।

    
 टूटे हुए दिल भी धड़कते है उम्र भर,
चाहे किसी 

 टूटे हुए दिल भी धड़कते है उम्र भर,
चाहे किसी
sad shayari in hindi 149

दोस्तो से अच्छे तो मेरे दुश्मन निकले, कमबख्त हर बात पर कहते हैं कि तुझे छोडेंगे नहीं।

    
 दोस्तो से अच्छे तो मेरे दुश्मन निकले,
कमबख्त हर बात 

 दोस्तो से अच्छे तो मेरे दुश्मन निकले,
कमबख्त हर बात
sad shayari in hindi 266

वह मेरा सब कुछ है पर मुक़द्दर नहीं, काश वो मेरा कुछ न होता पर मुक़द्दर होता।

sad shayari in hindi 38

तरस आता है मुझे अपनी, मासूम सी पलकों पर, जब भीग कर कहती हैं कि अब, रोया नहीं जाता।

    
 तरस आता है मुझे अपनी,
मासूम सी पलकों पर,
जब भीग 

 तरस आता है मुझे अपनी,
मासूम सी पलकों पर,
जब भीग
sad shayari in hindi 51

कत्ल हुआ हमारा इस तरह किस्तों में, कभी खंजर बदल गए, कभी कातिल बदल गए।

    
 कत्ल हुआ हमारा इस तरह किस्तों में,
कभी खंजर बदल 

 कत्ल हुआ हमारा इस तरह किस्तों में,
कभी खंजर बदल
sad shayari in hindi 26

हम तो नरम पत्तों की शाख़ हुआ करते थे, छीले इतने गए कि “खंज़र ” हो गए...।

    
 हम तो नरम पत्तों की शाख़ हुआ करते थे,
छीले 

 हम तो नरम पत्तों की शाख़ हुआ करते थे,
छीले
sad shayari in hindi 144

यही सोचकर कोई सफाई नहीं दी हमने, कि इल्जाम झूठे भले हैं पर लगाये तो तुमने हैं।

    
 यही सोचकर कोई सफाई नहीं दी हमने,
कि इल्जाम झूठे 

 यही सोचकर कोई सफाई नहीं दी हमने,
कि इल्जाम झूठे
sad shayari in hindi 177

जिस “चाँद” के हजारों हो चाहने वाले… *दोस्त*, वो क्या समझेगा एक सितारे कि कमी को...।

sad shayari in hindi 196

अच्छा करते हैं वो लोग जो मोहब्बत का इज़हार नहीं करते… ख़ामोशी से मर जाते हैं मगर किसी को बदनाम नहीं करते।।

    
 अच्छा करते हैं वो लोग जो मोहब्बत का इज़हार 

 अच्छा करते हैं वो लोग जो मोहब्बत का इज़हार
sad shayari in hindi 133

मेरे दिल से खेल तो रहे हो तुम पर… … जरा सम्भल के… … ये थोडा टूटा हुआ है कहीं तुम्हे ही लग ना जाए… …।

    
 मेरे दिल से खेल तो रहे हो तुम पर…
… 

 मेरे दिल से खेल तो रहे हो तुम पर…
…
sad shayari in hindi 202

दिखावे की मोहब्बत तो जमाने को हैं हमसे पर…, , ये दिल तो वहाँ बिकेगा जहाँ ज़ज्बातो की कदर होगी।

    
 दिखावे की मोहब्बत तो जमाने को हैं हमसे पर…,
,
ये 

 दिखावे की मोहब्बत तो जमाने को हैं हमसे पर…,
,
ये
sad shayari in hindi 230

लोग पूछते हैं क्यों सुर्ख हैं तुम्हारी आँखे, हंस के कह देता हूँ रात सो ना सका, लाख चाहूं मगर ये कह ना सकूँ, रात रोने की हसरत थी रो ना सका।

    
 लोग पूछते हैं क्यों सुर्ख हैं तुम्हारी आँखे,
हंस के 

 लोग पूछते हैं क्यों सुर्ख हैं तुम्हारी आँखे,
हंस के
sad shayari in hindi 185

ये पतंग भी बिल्कुल तुम्हारी तरह निकली जरा सी हवा क्या लग गई हवा में उडने लगी।

sad shayari in hindi 232

इश्क का धंधा ही बंद कर दिया साहेब, मुनाफे में जेब जले, और घाटे में दिल।

    
 इश्क का धंधा ही बंद कर दिया साहेब,
मुनाफे में 

 इश्क का धंधा ही बंद कर दिया साहेब,
मुनाफे में
sad shayari in hindi 101

दिल मेरा तोड़ा ऐसे वीरान भी न रहने दिया, खुद खुदा हो गया मुझे इन्सान भी न रहने दिया।

    
 दिल मेरा तोड़ा ऐसे वीरान भी न रहने दिया,
खुद 

 दिल मेरा तोड़ा ऐसे वीरान भी न रहने दिया,
खुद
sad shayari in hindi 157

हो सके तो अब के कोई सौदा न करना; मैं पिछली मोहब्बत में सब हार आया हूँ।

    
 हो सके तो अब के कोई सौदा न करना; 

 हो सके तो अब के कोई सौदा न करना;
sad shayari in hindi 113

लोग कहते हैं जब कोई अपना दूर चला जाता है तो बड़ी तकलीफ होती है, पर ज्यादा तकलीफ तो तब होती है जब कोई अपना पास होकर भी दूरियाँ बना ले।

    
 लोग कहते हैं जब कोई अपना दूर चला जाता 

 लोग कहते हैं जब कोई अपना दूर चला जाता
sad shayari in hindi 87

खुदखुशी करने से मुझे कोई परहेज नही है, बस शर्त इतनी है कि फंदा तेरी जुल्फों का हो।

sad shayari in hindi 75

कैसे दूर करूँ ये उदासी, बता दे कोई, लगा के सीने से काश, रुला दे कोई।

    
 कैसे दूर करूँ ये उदासी,
बता दे कोई,
लगा के सीने 

 कैसे दूर करूँ ये उदासी,
बता दे कोई,
लगा के सीने
sad shayari in hindi 226

ना जाने किस बात पे वो नाराज हैं हमसे, ख्वाबों मे भी मिलता हूँ तो बात नही करती।

    
 ना जाने किस बात पे वो नाराज हैं हमसे,
ख्वाबों 

 ना जाने किस बात पे वो नाराज हैं हमसे,
ख्वाबों
sad shayari in hindi 216

इतना याद न आया करो, कि रात भर सो न सकें। सुबह को सुर्ख आँखों का सबब पूछते हैं लोग।

    
 इतना याद न आया करो,
कि रात भर सो न 

 इतना याद न आया करो,
कि रात भर सो न
sad shayari in hindi 134

हुस्न वाले जब तोड़ते हैं दिल किसी का, बड़ी सादगी से कहते है मजबूर थे हम।

    
 हुस्न वाले जब तोड़ते हैं दिल किसी का,
बड़ी सादगी 

 हुस्न वाले जब तोड़ते हैं दिल किसी का,
बड़ी सादगी
sad shayari in hindi 90

भला कौन इस दिल की इतनी, देख-भाल करे… रोज़-रोज़ तो इसकी किस्मत में, टूटना ही लिखा है...।

sad shayari in hindi 182

सिमट गया मेरा प्यार भी चंद अल्फाजों में, जब उसने कहा मोहब्बत तो है पर तुमसे नहीं।

    
 सिमट गया मेरा प्यार भी चंद अल्फाजों में,
जब उसने 

 सिमट गया मेरा प्यार भी चंद अल्फाजों में,
जब उसने
sad shayari in hindi 253

हाथ पकड़ कर रोक लेते अगर, तुझ पर ज़रा भी जोर होता मेरा, ना रोते हम यूँ तेरे लिए अगर हमारी जिंदगी में तेरे सिवा कोई ओर होता।

    
 हाथ पकड़ कर रोक लेते अगर,
तुझ पर ज़रा भी 

 हाथ पकड़ कर रोक लेते अगर,
तुझ पर ज़रा भी
sad shayari in hindi 194

बहुत थक सा गया हूँ खुद को साबित करते करते , मेरे तरीके गलत हो सकते है मगर मेरी मोहब्बत नही ।

    
 बहुत थक सा गया हूँ खुद को साबित करते 

 बहुत थक सा गया हूँ खुद को साबित करते
sad shayari in hindi 41

हमें देख कर जब उसने मुँह मोड़ लिया, एक तसल्ली हो गयी चलो पहचानते तो हैं।

    
 हमें देख कर जब उसने मुँह मोड़ लिया,
एक तसल्ली 

 हमें देख कर जब उसने मुँह मोड़ लिया,
एक तसल्ली
sad shayari in hindi 27

वजह तक पूछने का मौका ही ना मिला, बस लम्हे गुजरते गए और हम अजनबी होते गए।

sad shayari in hindi 33

टूट कर चाहना और फिर टूट जाना, बात छोटी है मगर जान निकल जाती है।

    
 टूट कर चाहना और फिर टूट जाना,
बात छोटी है 

 टूट कर चाहना और फिर टूट जाना,
बात छोटी है
sad shayari in hindi 39

फ़रियाद कर रही है तरसी हुई निगाहें, किसी को देखे एक अरसा हो गया।

    
 फ़रियाद कर रही है तरसी हुई निगाहें,
किसी को देखे 

 फ़रियाद कर रही है तरसी हुई निगाहें,
किसी को देखे
sad shayari in hindi 241

कितना अजीब है लोगों का अंदाज़-ए-मोहब्बत, रोज़ एक नया ज़ख्म देकर कहते हैं अपना ख्याल रखना।

    
 कितना अजीब है लोगों का अंदाज़-ए-मोहब्बत,
रोज़ एक नया ज़ख्म 

 कितना अजीब है लोगों का अंदाज़-ए-मोहब्बत,
रोज़ एक नया ज़ख्म
sad shayari in hindi 143

मत पूछो कैसे गुजरता है हर पल तुम्हारे बिना, कभी बात करने की हसरत कभी देखने की तमन्ना।

    
 मत पूछो कैसे गुजरता है हर पल तुम्हारे बिना,
कभी 

 मत पूछो कैसे गुजरता है हर पल तुम्हारे बिना,
कभी
sad shayari in hindi 234

चाहा था मुक्कमल हो मेरे गम की कहानी, मैं लिख ना सका कुछ भी तेरे नाम से आगे।

sad shayari in hindi 212

हमने गुज़रे हुए लम्हों का हवाला जो दिया हँस के वो कहने लगे रात गई बात गई ...।

    
 हमने गुज़रे हुए लम्हों का हवाला जो दिया हँस 

 हमने गुज़रे हुए लम्हों का हवाला जो दिया हँस
sad shayari in hindi 123

ऐ खुदा मुसीबत मैं डाल दे मुझे…, किसी ने बुरे वक़्त मैं आने का वादा किया है।

    
 ऐ खुदा मुसीबत मैं डाल दे मुझे…,
किसी ने बुरे 

 ऐ खुदा मुसीबत मैं डाल दे मुझे…,
किसी ने बुरे
sad shayari in hindi 254

शिकायतों की पूरी किताब तुम्हें सुनानी है, फुर्सत में अगली जिंदगी सिर्फ मेरे लिए लेकर आना।

    
 शिकायतों की पूरी किताब तुम्हें सुनानी है,
फुर्सत में अगली 

 शिकायतों की पूरी किताब तुम्हें सुनानी है,
फुर्सत में अगली
sad shayari in hindi 192

चलो अब जाने भी दो…, क्या करोगे दास्तां सुनकर, ,, ख़ामोशी तुम समझोगे नही…, और बयां हमसे होगा नही।

    
 चलो अब जाने भी दो…,
क्या करोगे दास्तां सुनकर,
,,
ख़ामोशी तुम 

 चलो अब जाने भी दो…,
क्या करोगे दास्तां सुनकर,
,,
ख़ामोशी तुम
sad shayari in hindi 218

मैं क्या जानूँ दर्द की कीमत ? मेरे अपने मुझे मुफ्त में देते हैं।

sad shayari in hindi 265

दिल को बुझाने का बहाना कोई दरकार तो था, दुःख तो ये है तेरे दामन ने हवायें दी हैं।

    
 दिल को बुझाने का बहाना कोई दरकार तो था,
दुःख 

 दिल को बुझाने का बहाना कोई दरकार तो था,
दुःख
sad shayari in hindi 209

कोन कहता हे मुसाफिर जख्मी नही होते , रस्ते गवाह हे कम्बख्त गवाही नही देते।

    
 कोन कहता हे मुसाफिर जख्मी नही होते ,
रस्ते गवाह 

 कोन कहता हे मुसाफिर जख्मी नही होते ,
रस्ते गवाह
sad shayari in hindi 139

जब भी चाहा सिर्फ तुम्हे चाहा, पर कभी तुम से कुछ नही चाहा।

    
 जब भी चाहा सिर्फ तुम्हे चाहा,
पर कभी तुम से 

 जब भी चाहा सिर्फ तुम्हे चाहा,
पर कभी तुम से
sad shayari in hindi 86

मुस्कुराने की अब वजह याद नहीं रहती, पाला है बड़े नाज़ से… मेरे गमों ने मुझे।

    
 मुस्कुराने की अब वजह याद नहीं रहती,
पाला है बड़े 

 मुस्कुराने की अब वजह याद नहीं रहती,
पाला है बड़े
sad shayari in hindi 84

जागना कबूल हैं तेरी यादों में रात भर, तेरे एहसासों में जो सुकून है वो नींद में अब कहाँ।

sad shayari in hindi 107

Mujhe aaj bhi ye yankeen zaroor hai, Tu dil ke pass hai chaahe faaslo me door hai।

    
 Mujhe aaj bhi ye yankeen zaroor hai,
Tu dil ke 

 Mujhe aaj bhi ye yankeen zaroor hai,
Tu dil ke
sad shayari in hindi 170

दर्द सहने की कुछ यु आदत सी हो गई है…, की अब दर्द न मिले तो दर्द सा होता है।

    
 दर्द सहने की कुछ यु आदत सी हो गई 

 दर्द सहने की कुछ यु आदत सी हो गई
sad shayari in hindi 233

सुनो कोई टूट रहा है तुम्हे एहसास दिलाते दिलाते, सीख भी जाओ किसी की चाहत की कदर करना।

    
 सुनो कोई टूट रहा है तुम्हे एहसास दिलाते दिलाते,
सीख 

 सुनो कोई टूट रहा है तुम्हे एहसास दिलाते दिलाते,
सीख
sad shayari in hindi 197

मैं कभी किसीको अपने दिल से दुर नही करता, बस जीनका दिल भर जाता है वो मुजसे दुर हो जाते हैँ।

    
 मैं कभी किसीको अपने दिल से दुर नही करता,
बस 

 मैं कभी किसीको अपने दिल से दुर नही करता,
बस
sad shayari in hindi 40

न ज़ख्म भरे, न शराब सहारा हुई, न वो वापस लोटी, न मोहब्बत दोबारा हुई।

sad shayari in hindi 166

आज भी उसी मोड़ पर इंतजार क्र रहा हु उनका जहाँ न लोट कर आने की वो कसम खाए बेठे है।

    
 आज भी उसी मोड़ पर इंतजार क्र रहा हु 

 आज भी उसी मोड़ पर इंतजार क्र रहा हु
sad shayari in hindi 83

खैर कुछ तो किया उसने… चलो तबाह ही सही...।

    
 खैर कुछ तो किया उसने…
चलो तबाह ही सही...। 

 खैर कुछ तो किया उसने…
चलो तबाह ही सही...।
sad shayari in hindi 176

जलने वाले की दूआ से ही सारी बरकत है, वरना अपना कहने वाले तो याद भी नही करते...।

    
 जलने वाले की दूआ से ही सारी बरकत है,
वरना 

 जलने वाले की दूआ से ही सारी बरकत है,
वरना
sad shayari in hindi 88

मैंने दरवाज़े पे ताला भी लगा कर देखा लिया, पर ग़म फिर भी समझ जाते है की मैं घर में हूँ।

    
 मैंने दरवाज़े पे ताला भी लगा कर देखा लिया,
पर 

 मैंने दरवाज़े पे ताला भी लगा कर देखा लिया,
पर
sad shayari in hindi 186

तेरे गुरूर को देखकर तेरी तमन्ना ही छोड़ दी हमने, जरा हम भी तो देखे कौन चाहता है तुम्हे हमारी तरह...।

sad shayari in hindi 164

शोहरत अच्छी होती है, गुरूर अच्छा नहीं होता, अपनों से बेरुखी सेे पेश आना, हुज़ूर अच्छा नहीं होता।

    
 शोहरत अच्छी होती है,
गुरूर अच्छा नहीं होता,
अपनों से बेरुखी 

 शोहरत अच्छी होती है,
गुरूर अच्छा नहीं होता,
अपनों से बेरुखी
sad shayari in hindi 65

अपना बनाकर फिर कुछ दिनों में बेगाना बना दिया, भर गया दिल हमसे और मजबूरी का बहाना बना दिया।

    
 अपना बनाकर फिर कुछ दिनों में बेगाना बना दिया,
भर 

 अपना बनाकर फिर कुछ दिनों में बेगाना बना दिया,
भर
sad shayari in hindi 279

कैसे मिलेंगे हमें चाहने वाले बताइये, दुनिया खड़ी है राह में दीवार की तरह, वो बेवफ़ाई करके भी शर्मिंदा ना हुए, सजाएं मिली हमें गुनहगार की तरह।

    
 कैसे मिलेंगे हमें चाहने वाले बताइये,
दुनिया खड़ी है राह 

 कैसे मिलेंगे हमें चाहने वाले बताइये,
दुनिया खड़ी है राह
sad shayari in hindi 12

कभी खुशियों की चाह में रुलाती है , कभी दुखों की पनाह में रुलाती है , अजीब सिलसिला है ज़िन्दगी का , कभी इंतज़ार करके रुलाती है , और दिल तब टूट जाता है जब ऐतबार करके रुलाती है।

    
 कभी खुशियों की चाह में रुलाती है ,
कभी दुखों 

 कभी खुशियों की चाह में रुलाती है ,
कभी दुखों
sad shayari in hindi 109

Jinke chehre pe hamesha smile rehti hai, Wahi log zindagi me bahut roye hote hai।

sad shayari in hindi 260

तड़प के देखो किसी की चाहत में, तो पता चले कि इंतजार क्या होता है, यूं ही मिल जाए अगर कोई बिना तड़पे, तो कैसे पता चले कि प्यार क्या होता है।

    
 तड़प के देखो किसी की चाहत में,
तो पता चले 

 तड़प के देखो किसी की चाहत में,
तो पता चले
sad shayari in hindi 290

दिल में हर राज़ दबा कर रखते है, होंटो पर मुस्कुराहट सजाकर रखते है, ये दुनिया सिर्फ खुशी में साथ देती है, इसलिए हम अपने आँसुओ को छुपा कर रखते है।

    
 दिल में हर राज़ दबा कर रखते है,
होंटो पर 

 दिल में हर राज़ दबा कर रखते है,
होंटो पर
sad shayari in hindi 76

शुक्र करो कि हम दर्द सहते हैं, लिखते नहीं।वरना कागजों पर लफ़्ज़ों के जनाज़े उठते।

    
 शुक्र करो कि हम दर्द सहते हैं,
लिखते नहीं।वरना कागजों 

 शुक्र करो कि हम दर्द सहते हैं,
लिखते नहीं।वरना कागजों
sad shayari in hindi 264

वो तेरे खत तेरी तस्वीर और सूखे फूल, उदास करती हैं मुझ को निशानियाँ तेरी।

    
 वो तेरे खत तेरी तस्वीर और सूखे फूल,
उदास करती 

 वो तेरे खत तेरी तस्वीर और सूखे फूल,
उदास करती
sad shayari in hindi 189

ये बात और है के तक़दीर लिपट के रोई वरना , बाज़ू तो हमनें तुम्हे देख कर ही फैलाए थे।

sad shayari in hindi 11

प्यार की काली सबके लिए खिलती नहीं, हर दुआ सबकी कबूल होती नहीं , प्यार मिलता है किस्मत वालों को , पर सबकी किस्मत ऐसी होती नहीं।।

    
 प्यार की काली सबके लिए खिलती नहीं,
हर दुआ सबकी 

 प्यार की काली सबके लिए खिलती नहीं,
हर दुआ सबकी
sad shayari in hindi 178

कभी भी ख़ुशी मे शायरी नहीं लिखी जाती है ये वो धुन है जो दिल टूटने पर बनती है...।

    
 कभी भी ख़ुशी मे शायरी नहीं लिखी जाती है 

 कभी भी ख़ुशी मे शायरी नहीं लिखी जाती है
sad shayari in hindi 291

हँसी ने लबों पे थिरकना छोड़ दिया है, ख्वाबों ने पलकों पे आना छोड़ दिया है, नही आती अब तो हिचकियाँ भी, शायद आप ने भी याद करना छोड़ दिया है।

    
 हँसी ने लबों पे थिरकना छोड़ दिया है,
ख्वाबों ने 

 हँसी ने लबों पे थिरकना छोड़ दिया है,
ख्वाबों ने
sad shayari in hindi 294

दिल से रोये मगर होंठो से मुस्कुरा बेठे, यूँ ही हम किसी से वफ़ा निभा बेठे, वो हमे एक लम्हा न दे पाए अपने प्यार का, और हम उनके लिये जिंदगी लुटा बेठे।

    
 दिल से रोये मगर होंठो से मुस्कुरा बेठे,
यूँ ही 

 दिल से रोये मगर होंठो से मुस्कुरा बेठे,
यूँ ही
sad shayari in hindi 183

सो जाओ दोस्तों यु रात भर जागने से मुहाबत लोट क्र नही आती।

sad shayari in hindi 105

मेरी फितरत में नहीं अपना गम बयां करना; अगर तेरे वजूद का हिस्सा हूँ तो महसूस कर तकलीफ मेरी...।

    
 मेरी फितरत में नहीं अपना गम बयां करना; अगर 

 मेरी फितरत में नहीं अपना गम बयां करना; अगर
sad shayari in hindi 142

हर फैसले होते नहीं, सिक्के उछाल कर, यह दिल के मामले है…, जरा संभल कर।

    
 हर फैसले होते नहीं,
सिक्के उछाल कर,
यह दिल के मामले 

 हर फैसले होते नहीं,
सिक्के उछाल कर,
यह दिल के मामले
sad shayari in hindi 203

रुठुंगा अगर तुजसे तो इस कदर रुठुंगा की, ये तेरीे आँखे मेरी एक झलक को तरसेंगी।

    
 रुठुंगा अगर तुजसे तो इस कदर रुठुंगा की,
ये तेरीे 

 रुठुंगा अगर तुजसे तो इस कदर रुठुंगा की,
ये तेरीे
sad shayari in hindi 57

माफ़ी चाहता हूँ गुनेहगार हूँ तेरा ऐ दिल, तुझे उसके हवाले किया जिसे तेरी कदर नहीं।

    
 माफ़ी चाहता हूँ गुनेहगार हूँ तेरा ऐ दिल,
तुझे उसके 

 माफ़ी चाहता हूँ गुनेहगार हूँ तेरा ऐ दिल,
तुझे उसके
sad shayari in hindi 48

तलब ऐसी कि अपनी सांसों में समा लू तुझे, किस्मत ऐसी कि देखने को भी मोहताज हूँ तुझे।

sad shayari in hindi 267

बेवक्त बेवजह बेसबब सी बेरुखी तेरी, फिर भी बेइंतहा तुझे चाहने की बेबसी मेरी।

    
 बेवक्त बेवजह बेसबब सी बेरुखी तेरी,
फिर भी बेइंतहा तुझे 

 बेवक्त बेवजह बेसबब सी बेरुखी तेरी,
फिर भी बेइंतहा तुझे
sad shayari in hindi 5

“कितना बुरा लगता है, जब बादल हो और बारिश ना हो, जब आंखे हो और ख़्वाब ना हो, जब कोई अपना हो और कोई पास ना हो।”।

    
 “कितना बुरा लगता है,
जब बादल हो और बारिश ना 

 “कितना बुरा लगता है,
जब बादल हो और बारिश ना
sad shayari in hindi 167

वक़्त ने ज़रा सी करवट क्या ली गैरो की लाइन में सबसे आगे पाया अपनों को।

    
 वक़्त ने ज़रा सी करवट क्या ली गैरो की 

 वक़्त ने ज़रा सी करवट क्या ली गैरो की
sad shayari in hindi 259

तू पास नहीं तो क्या हुआ, मोहब्बत तो हम तेरी दूरियों से भी करते है।

    
 तू पास नहीं तो क्या हुआ,
मोहब्बत तो हम तेरी 

 तू पास नहीं तो क्या हुआ,
मोहब्बत तो हम तेरी
sad shayari in hindi 136

टूटता हुआ तारा सबकी दुआ पूरी करता है, क्यों के उसे टूटने का दर्द मालूम होता है।

sad shayari in hindi 70

लिखी है खुदा ने मोहब्बत सबकी तक़दीर में, हमारी बारी आई तो स्याही ही ख़त्म हो गई।

    
 लिखी है खुदा ने मोहब्बत सबकी तक़दीर में,
हमारी बारी 

 लिखी है खुदा ने मोहब्बत सबकी तक़दीर में,
हमारी बारी
sad shayari in hindi 58

न जाने कौन सी साजिशों के हम शिकार हुए, जितना साफ दिल रखा उतने ही हम दागदार हुए।

    
 न जाने कौन सी साजिशों के हम शिकार हुए,
जितना 

 न जाने कौन सी साजिशों के हम शिकार हुए,
जितना
sad shayari in hindi 116

ये तो शौक है मेरा ददॅ लफ्जो मे बयां करने का, नादान लोग हमे युं ही शायर समझ लेते है।

    
 ये तो शौक है मेरा ददॅ लफ्जो मे बयां 

 ये तो शौक है मेरा ददॅ लफ्जो मे बयां
sad shayari in hindi 272

चलो अब जाने भी दो क्या करोगे दास्ताँ सुनकर, ख़ामोशी तुम समझोगे नहीं और बयाँ हमसे होगा नहीं।

    
 चलो अब जाने भी दो क्या करोगे दास्ताँ सुनकर,
ख़ामोशी 

 चलो अब जाने भी दो क्या करोगे दास्ताँ सुनकर,
ख़ामोशी
sad shayari in hindi 173

एक आरज़ू थी तेरे साथ जिंदगी गुजारने की, पर तेरी तरह मेरी तो ख्वाहिशे भी बेवफा निकली।

sad shayari in hindi 131

जिन्दगी भर कोई साथ नहीं देता यह जान लिया हमने, लोग तो तब याद करते हैं जुब वह खुद अकेले हों।

    
 जिन्दगी भर कोई साथ नहीं देता यह जान लिया 

 जिन्दगी भर कोई साथ नहीं देता यह जान लिया
sad shayari in hindi 145

मेरे अल्फ़ाज़ तो चुरा लोगे, वो दर्द, कहाँ से लाओगे।

    
 मेरे अल्फ़ाज़ तो चुरा लोगे,
वो दर्द,
कहाँ से लाओगे। 

 मेरे अल्फ़ाज़ तो चुरा लोगे,
वो दर्द,
कहाँ से लाओगे।
sad shayari in hindi 60

लगता है मैं भूल चुका हूँ, मुस्कुराने का हुनर, कोशिश जब भी करता हूँ, आँसू निकल आते हैं।

    
 लगता है मैं भूल चुका हूँ,
मुस्कुराने का हुनर,
कोशिश जब 

 लगता है मैं भूल चुका हूँ,
मुस्कुराने का हुनर,
कोशिश जब
sad shayari in hindi 56

चले जायेंगे एक दिन, तुझे तेरे हाल पर छोड़कर… कदर क्या होती हैं प्यार की, तुझे वक़्त ही सीखा देगा...।

    
 चले जायेंगे एक दिन,
तुझे तेरे हाल पर छोड़कर…
कदर क्या 

 चले जायेंगे एक दिन,
तुझे तेरे हाल पर छोड़कर…
कदर क्या
sad shayari in hindi 111

जानते हैं दुनिया की सबसे कीमती चीज़ें क्या हैं ? सच्ची ख़ुशी के आंसू और सच्चे आंसुओं पर मुस्कान।

sad shayari in hindi 274

तुम्हारे बाद न तकमील हो सकी अपनी, तुम्हारे बाद अधूरे तमाम ख्वाब लगे।

    
 तुम्हारे बाद न तकमील हो सकी अपनी,
तुम्हारे बाद अधूरे 

 तुम्हारे बाद न तकमील हो सकी अपनी,
तुम्हारे बाद अधूरे
sad shayari in hindi 220

मैं आईना हूँ टूटना मेरी फितरत है, इसलिए पत्थरों से मुझे कोई गिला नहीं।

    
 मैं आईना हूँ टूटना मेरी फितरत है,
इसलिए पत्थरों से 

 मैं आईना हूँ टूटना मेरी फितरत है,
इसलिए पत्थरों से
sad shayari in hindi 135

तेरी यादें अक्सर छेड़ जाया करती हैं कभी अा़ँखों का पानी बनकर कभी हवा का झोंका बनकर।

    
 तेरी यादें अक्सर छेड़ जाया करती हैं कभी अा़ँखों 

 तेरी यादें अक्सर छेड़ जाया करती हैं कभी अा़ँखों
sad shayari in hindi 165

कईं रोज से कोई नया जखम न दिया पता करो सनम ठीक तो है न।

    
 कईं रोज से कोई नया जखम न दिया पता 

 कईं रोज से कोई नया जखम न दिया पता
sad shayari in hindi 69

हमने उतार दिए सारे कर्ज तेरी मुहब्बत के, अब हिसाब होगा तो सिर्फ तेरे दिए हुए जख्मों का।

sad shayari in hindi 243

बहुत देर कर दी तूने मेरी धडकनें महसूस करने में, वो दिल नीलाम हो गया, जिसपर कभी हकुमत तेरी थी।

    
 बहुत देर कर दी तूने मेरी धडकनें महसूस करने 

 बहुत देर कर दी तूने मेरी धडकनें महसूस करने
sad shayari in hindi 210

हँसकर दर्द छुपाने की कारीगरी मशहूर थी मेरी, पर कोई हुनर काम नहीं आता जब तेरा नाम आता है ।

    
 हँसकर दर्द छुपाने की कारीगरी मशहूर थी मेरी,
पर कोई 

 हँसकर दर्द छुपाने की कारीगरी मशहूर थी मेरी,
पर कोई
sad shayari in hindi 206

मुझे अपने किरदार पे इतना तो यकीन है की, कोई मुझे छोड़ सकता है लेकिन भूल नही सकता...।

    
 मुझे अपने किरदार पे इतना तो यकीन है की,
कोई 

 मुझे अपने किरदार पे इतना तो यकीन है की,
कोई
sad shayari in hindi 126

जिंदगी के रूप में दो घूंट मिले, इक तेरे इश्क का पी चुके हैं, दुसरा तेरी जुदाई का पी रहे हैं।

    
 जिंदगी के रूप में दो घूंट मिले,
इक तेरे इश्क 

 जिंदगी के रूप में दो घूंट मिले,
इक तेरे इश्क
sad shayari in hindi 102

इस ज़िन्दगी की ज़िद तो देखो…, उनको भुलाने के लिए भी, उनको याद करना पड़ता है… की हम उन्हें भूलना चाहते है।

sad shayari in hindi 72

जुल्म के सारे हुनर हम पर यूँ आजमाये गये, जुल्म भी सहा हमने, और जालिम भी कहलाये गये।

    
 जुल्म के सारे हुनर हम पर यूँ आजमाये गये,
जुल्म 

 जुल्म के सारे हुनर हम पर यूँ आजमाये गये,
जुल्म
sad shayari in hindi 108

बहुत हसरत रही है की तेरे साथ चलें हम, बस तेरी और से ही कभी इशारा ना हुआ...।

    
 बहुत हसरत रही है की तेरे साथ चलें हम,
बस 

 बहुत हसरत रही है की तेरे साथ चलें हम,
बस
sad shayari in hindi 118

बरबाद कर देती है मोहब्बत हर मोहब्बत करने वाले को क्यूकि इश्क़ हार नही मानता और दिल बात नही मानता।

    
 बरबाद कर देती है मोहब्बत हर मोहब्बत करने वाले 

 बरबाद कर देती है मोहब्बत हर मोहब्बत करने वाले
sad shayari in hindi 227

सोचता रहा ये रातभर करवट बदल बदल कर, जानें वो क्यों बदल गया, मुझको इतना बदल कर।

    
 सोचता रहा ये रातभर करवट बदल बदल कर,
जानें वो 

 सोचता रहा ये रातभर करवट बदल बदल कर,
जानें वो
sad shayari in hindi 293

उन्होंने हमें आजमाकर देख लिया, इक धोखा हमने भी खा कर देख लिया, क्या हुआ हम हुए जो उदास, उन्होंने तो अपना दिल बहला के देख लिया।

sad shayari in hindi 249

मेरी आँखों को सुर्ख़ देख कर कहते हैं लोग, लगता है, तेरा प्यार तुझे आज़माता बहुत है।

    
 मेरी आँखों को सुर्ख़ देख कर कहते हैं लोग,
लगता 

 मेरी आँखों को सुर्ख़ देख कर कहते हैं लोग,
लगता
sad shayari in hindi 138

कुछ लोग आए थे मेरा दुख बाँटने, मैं जब खुश हुआ तो खफा होकर चल दिये...।

    
 कुछ लोग आए थे मेरा दुख बाँटने,
मैं जब खुश 

 कुछ लोग आए थे मेरा दुख बाँटने,
मैं जब खुश
sad shayari in hindi 112

रिश्तों की डोरी तब कमजोर होती है जब इंसान ग़लतफहमी में पैदा होने वाले सवालों का जवाब खुद ही बना लेता है।

    
 रिश्तों की डोरी तब कमजोर होती है जब इंसान 

 रिश्तों की डोरी तब कमजोर होती है जब इंसान
sad shayari in hindi 18

हक़ीक़त जान लो जुदा होने से पहले , मेरी सुन लो अपनी सुनाने से पहले , ये सोच लेना भुलाने से पहले , बहुत रोयी हैं ये आँखें मुस्कुराने से पहले।

    
 हक़ीक़त जान लो जुदा होने से पहले ,
मेरी सुन 

 हक़ीक़त जान लो जुदा होने से पहले ,
मेरी सुन
sad shayari in hindi 155

तुम बदले तो मज़बूरिया थी , हम बदले तो बेवफा हो गए।

sad shayari in hindi 221

कितने सालों के इंतज़ार का सफर खाक हुआ । उसने जब पूछा “कहो कैसे आना हुआ”।

    
 कितने सालों के इंतज़ार का सफर खाक हुआ ।
उसने 

 कितने सालों के इंतज़ार का सफर खाक हुआ ।
उसने
sad shayari in hindi 246

मुद्दत के बाद आज उसे देख कर ‘मुनीर’, इक बार दिल तो धड़का मगर फिर सँभल गया।

    
 मुद्दत के बाद आज उसे देख कर ‘मुनीर’,
इक बार 

 मुद्दत के बाद आज उसे देख कर ‘मुनीर’,
इक बार
sad shayari in hindi 53

रात तकती रही आँखो में, दिल आरजू करता रहा, कोई बे-सबर रोता रहा, कोई बे-खबर सोता रहा।

    
 रात तकती रही आँखो में,
दिल आरजू करता रहा,
कोई बे-सबर 

 रात तकती रही आँखो में,
दिल आरजू करता रहा,
कोई बे-सबर
sad shayari in hindi 140

उम्र कैद की तरह होते हे कुछ रिश्ते, जहा जमानत देकर भी रिहाई मुमकिन नही।

    
 उम्र कैद की तरह होते हे कुछ रिश्ते,
जहा जमानत 

 उम्र कैद की तरह होते हे कुछ रिश्ते,
जहा जमानत
sad shayari in hindi 55

खता उनकी भी नहीं है वो क्या करते, हजारों चाहने वाले थे किस-किस से वफ़ा करते।

sad shayari in hindi 91

मैने माँगा था थोड़ा सा उजाला अपनी जिंदगी में, चाहने वालों ने तो आग ही लगा दी।

    
 मैने माँगा था थोड़ा सा उजाला अपनी जिंदगी में,
चाहने 

 मैने माँगा था थोड़ा सा उजाला अपनी जिंदगी में,
चाहने
sad shayari in hindi 10

मन कपडा नहीं फिर भी मैला हो जाता है , दिल कांच नहीं फिर भी टूट जाट है, अजीब दस्तूर है ज़िन्दगी का, रूठ कोई जाता है , टूट कोई जाता है।

    
 मन कपडा नहीं फिर भी मैला हो जाता है 

 मन कपडा नहीं फिर भी मैला हो जाता है
sad shayari in hindi 252

मेरे बिना क्या अपने आप को सँवार लोगे तुम, “इश्क़” हूँ कोई ज़ेवर नहीं जो उतार दोगे तुम।

    
 मेरे बिना क्या अपने आप को सँवार लोगे तुम,
“इश्क़” 

 मेरे बिना क्या अपने आप को सँवार लोगे तुम,
“इश्क़”
sad shayari in hindi 130

हमारी कद्र उनको होगी तन्हाईयो में एक दिन, अभी तो बहुत लोग हैं उनके पास दिल्लगी करने को...।

    
 हमारी कद्र उनको होगी तन्हाईयो में एक दिन,
अभी तो 

 हमारी कद्र उनको होगी तन्हाईयो में एक दिन,
अभी तो
sad shayari in hindi 64

लगा कर आग सीने में, चले हो तुम कहाँ, अभी तो राख उड़ने दो, तमाशा और भी होगा।

sad shayari in hindi 215

मुस्कुराने से भी होता है ग़में-दिल बयां, मुझे रोने की आदत हो ये ज़रूरी तो नहीं।

    
 मुस्कुराने से भी होता है ग़में-दिल बयां,
मुझे रोने की 

 मुस्कुराने से भी होता है ग़में-दिल बयां,
मुझे रोने की
sad shayari in hindi 127

किसी ने कहा था महोब्बत फूल जैसी है, कदम रुक गये आज जब फूलों को बाजार में बिकते देखा।

    
 किसी ने कहा था महोब्बत फूल जैसी है,
कदम रुक 

 किसी ने कहा था महोब्बत फूल जैसी है,
कदम रुक
sad shayari in hindi 235

तुम तो डर गये हमारी एक ही कसम से, हमे तो तुम्हारी कसम देकर हजारो ने लूटा है।

    
 तुम तो डर गये हमारी एक ही कसम से,
हमे 

 तुम तो डर गये हमारी एक ही कसम से,
हमे
sad shayari in hindi 80

भीगी नहीं थी मेरी आँखें कभी, वक़्त की मार से… देख तेरी थोड़ी सी बेरुखी ने इन्हें, जी भर के रुला दिया...।

    
 भीगी नहीं थी मेरी आँखें कभी,
वक़्त की मार से…
देख 

 भीगी नहीं थी मेरी आँखें कभी,
वक़्त की मार से…
देख
sad shayari in hindi 214

तू मेरी चाहत का एक लफ्ज भी ना पढ़ सका, और मैं तेरे दिये हुए दर्द की किताब पढ़ते पढ़ते ही सोती हूँ।

sad shayari in hindi 289

दर्द है दिल में पर इसका एहसास नहीं होता;रोता है दिल जब वो पास नहीं होता;बर्बाद हो गए हम उसके प्यार में;और वो कहते हैं इस तरह प्यार नहीं होता।

    
 दर्द है दिल में पर इसका एहसास नहीं होता;रोता 

 दर्द है दिल में पर इसका एहसास नहीं होता;रोता
sad shayari in hindi 286

टूटे हुए दिल ने भी उसके लिए दुआ मांगी, मेरी साँसों ने हर पल उसकी ख़ुशी मांगी, न जाने कैसी दिल्लगी थी उस बेवफा से, कि मैंने आखिरी ख्वाहिश में भी उसकी वफ़ा मांगी।

    
 टूटे हुए दिल ने भी उसके लिए दुआ मांगी,
मेरी 

 टूटे हुए दिल ने भी उसके लिए दुआ मांगी,
मेरी
sad shayari in hindi 277

यकीन था कि तुम भूल जाओगे मुझको, खुशी है कि तुम उम्मीद पर खरे उतरे।

    
 यकीन था कि तुम भूल जाओगे मुझको,
खुशी है कि 

 यकीन था कि तुम भूल जाओगे मुझको,
खुशी है कि
sad shayari in hindi 292

“शक करने से शक बढ़ता है, भरोसा करने से भरोसा बढ़ता है, ये आपकी इच्छा है कि आप किस तरफ बढ़ना चाहते हो।”।

    
 “शक करने से शक बढ़ता है,
भरोसा करने से भरोसा 

 “शक करने से शक बढ़ता है,
भरोसा करने से भरोसा
sad shayari in hindi 184

हर किसी में तुझे पाने की कोशिश की बस एक तुझे न पा सकने के बाद ।

sad shayari in hindi 153

आदत बना ली मैंने खुद को तकलीफ देने की , ताकि जब कोई अपना तकलीफ दे तो ज्यादा तकलीफ ना हो।

    
 आदत बना ली मैंने खुद को तकलीफ देने की 

 आदत बना ली मैंने खुद को तकलीफ देने की
sad shayari in hindi 237

अगर नींद आ जाये तो, सो भी लिया करो, रातों को जागने से, मोहब्बत लौटा नहीं करती।

    
 अगर नींद आ जाये तो,
सो भी लिया करो,
रातों को 

 अगर नींद आ जाये तो,
सो भी लिया करो,
रातों को
sad shayari in hindi 3

Bikhar Jate Hain, Sar Se Paanv Tak, Woh Log, Jo Kisi Beparvah Se Be-Panah Ishq Karte Hain।

    
 Bikhar Jate Hain,
Sar Se Paanv Tak,
Woh Log,
Jo Kisi Beparvah 

 Bikhar Jate Hain,
Sar Se Paanv Tak,
Woh Log,
Jo Kisi Beparvah
sad shayari in hindi 198

तुझसे अच्छे तो जख्म हैं मेरे । उतनी ही तकलीफ देते हैं जितनी बर्दास्त कर सकूँ ।।

    
 तुझसे अच्छे तो जख्म हैं मेरे ।
उतनी ही तकलीफ 

 तुझसे अच्छे तो जख्म हैं मेरे ।
उतनी ही तकलीफ
sad shayari in hindi 62

ख्वाहिश तो न थी किसी से दिल लगाने की, पर किस्मत में दर्द लिखा हो तो मुहब्बत कैसे ना होती।

sad shayari in hindi 296

ज़िन्दगी है नादान इसलिए चुप हूँ दर्द ही दर्द है, सुबह- शाम इसलिए चुप हूँ।कह दु ज़माने से दास्तान अपनी, उसमे आया तेरा नाम इसलिए चुप हूँ।

    
 ज़िन्दगी है नादान इसलिए चुप हूँ दर्द ही दर्द 

 ज़िन्दगी है नादान इसलिए चुप हूँ दर्द ही दर्द
sad shayari in hindi 256

ये इश्क मोहब्बत की, रिवायतें भी अजीब है, पाया नहीं है जिसको उसे खोना भी नहीं चाहते।

    
 ये इश्क मोहब्बत की,
रिवायतें भी अजीब है,
पाया नहीं है 

 ये इश्क मोहब्बत की,
रिवायतें भी अजीब है,
पाया नहीं है
sad shayari in hindi 28

निकले हम दुनिया की भीड़ में तो पता चला की… हर वह शख्स अकेला है, जिसने मोहब्बत की है।

    
 निकले हम दुनिया की भीड़ में तो पता चला 

 निकले हम दुनिया की भीड़ में तो पता चला
sad shayari in hindi 242

खबर मरने की जन आये, तो यह न समझना हम दगाबाज थे, किस्मत ने गम इतने दिए, बस ज़रा से परेशान थे।

    
 खबर मरने की जन आये,
तो यह न समझना हम 

 खबर मरने की जन आये,
तो यह न समझना हम
sad shayari in hindi 81

मेरी आँखो का हर आँसू, तेरे प्यार की निशानी है, जो तू समझे तो मोती है, ना समझे तो पानी है...।

sad shayari in hindi 52

कल रात का आलम इस कदर था यारो, उसकी यादों ने मेरी आँखो को सोने ना दिया।

    
 कल रात का आलम इस कदर था यारो,
उसकी यादों 

 कल रात का आलम इस कदर था यारो,
उसकी यादों
sad shayari in hindi 114

नमक की तरह हो गयी है जिंदगी, लोग स्वादानुसार इस्तेमाल कर लेते हैं।

    
 नमक की तरह हो गयी है जिंदगी,
लोग स्वादानुसार इस्तेमाल 

 नमक की तरह हो गयी है जिंदगी,
लोग स्वादानुसार इस्तेमाल
sad shayari in hindi 191

मेरी हर आह को वाह मिली है यहाँ…, कौन कहता है दर्द बिकता नहीं है।

    
 मेरी हर आह को वाह मिली है यहाँ…,
कौन कहता 

 मेरी हर आह को वाह मिली है यहाँ…,
कौन कहता
sad shayari in hindi 171

उसने बड़ी बेरुखी से कहा ” बस , अब जुदा होना है ” और आज दिल- ए- बरबाद में सिर्फ शोला और चिन्गारी है।

    
 उसने बड़ी बेरुखी से कहा ” बस ,
अब जुदा 

 उसने बड़ी बेरुखी से कहा ” बस ,
अब जुदा
sad shayari in hindi 24

मुझे जिस चिराग से प्यार था… मेरा सब कुछ उसी ने जला दिया...।

sad shayari in hindi 71

बिखरती रही जिंदगी बूँद-दर-बूँद, मगर इश्क़ फिर भी प्यासा रहा।

    
 बिखरती रही जिंदगी बूँद-दर-बूँद,
मगर इश्क़ फिर भी प्यासा रहा। 

 बिखरती रही जिंदगी बूँद-दर-बूँद,
मगर इश्क़ फिर भी प्यासा रहा।
sad shayari in hindi 23

वो सोचती होगी बड़े चैन से सो रहा हूँ मैं, उसे क्या पता ओढ़ के चादर रो रहा हूँ मैं।

    
 वो सोचती होगी बड़े चैन से सो रहा हूँ 

 वो सोचती होगी बड़े चैन से सो रहा हूँ
sad shayari in hindi 29

अब मोहब्बत नहीं रही इस जमाने में, क्योंकि लोग अब मोहब्बत नहीं मज़ाक किया करते है।

    
 अब मोहब्बत नहीं रही इस जमाने में,
क्योंकि लोग अब 

 अब मोहब्बत नहीं रही इस जमाने में,
क्योंकि लोग अब
sad shayari in hindi 129

इरादा कत्ल का था तो ~मेरा सर कलम कर देते क्यू इश्क मे डाल कर तुने ~हर साँस पर मौत लिख दी।

    
 इरादा कत्ल का था तो ~मेरा सर कलम कर 

 इरादा कत्ल का था तो ~मेरा सर कलम कर
sad shayari in hindi 37

सजा ये है की बंजर जमीन हूँ मैं, और जुल्म ये है की बारिशों से इश्क़ हो गया।

sad shayari in hindi 193

क्या करियेगा पहचान कर इन चेहरों को अब तो अपना चेहरा भी अजनबी सा नजर आता है।

    
 क्या करियेगा पहचान कर इन चेहरों को अब तो 

 क्या करियेगा पहचान कर इन चेहरों को अब तो
sad shayari in hindi 163

जिस्म उसका भी मिट्टी का है मेरी तरह…, ” ए खुदा “फिर क्यू सिर्फ मेरा ही दिल तडफता है उस के लिये…, ”।

    
 जिस्म उसका भी मिट्टी का है मेरी तरह…,
” ए 

 जिस्म उसका भी मिट्टी का है मेरी तरह…,
” ए
sad shayari in hindi 262

जिसके नसीब मे हों ज़माने की ठोकरें, उस बदनसीब से ना सहारों की बात कर।

    
 जिसके नसीब मे हों ज़माने की ठोकरें,
उस बदनसीब से 

 जिसके नसीब मे हों ज़माने की ठोकरें,
उस बदनसीब से
sad shayari in hindi 207

टूटे हुवे सपनो और रूठे हुवे अपनों ने आज उदास कर दिया | वरना लोग हमसे मुस्कराने का राज पुछा करते थे |।

    
 टूटे हुवे सपनो और रूठे हुवे अपनों ने आज 

 टूटे हुवे सपनो और रूठे हुवे अपनों ने आज
sad shayari in hindi 179

“क्या लिखूँ , अपनी जिंदगी के बारे में, दोस्तों, वो लोग ही बिछड़ गए, ‘जो जिंदगी हुआ करते थे।

sad shayari in hindi 248

टूटा दिल और धड़कन को एहसास ना हुआ, पास होकर भी वो दिल के पास न रहा, जब दूर थी तो, जान थी मेरी, आज जब हम क़रीब आये तो वो एहसास ना रहा।

    
 टूटा दिल और धड़कन को एहसास ना हुआ,
पास होकर 

 टूटा दिल और धड़कन को एहसास ना हुआ,
पास होकर
sad shayari in hindi 45

मोहब्बत नही तो मुकदमा हि दायर कर दे जालिम, तारीख दर तारीख तेरा दीदार तो होगा।

    
 मोहब्बत नही तो मुकदमा हि दायर कर दे जालिम,
तारीख 

 मोहब्बत नही तो मुकदमा हि दायर कर दे जालिम,
तारीख
sad shayari in hindi 269

एक नजर भी देखना गंवारा नहीं उसे, जरा सा भी एहसास हमारा नहीं उसे, वो साहिल से देखते रहे डूबना हमारा, हम भी खुद्दार थे पुकारा नहीं उसे।

    
 एक नजर भी देखना गंवारा नहीं उसे,
जरा सा भी 

 एक नजर भी देखना गंवारा नहीं उसे,
जरा सा भी
sad shayari in hindi 271

जब कभी फुर्सत मिले मेरे दिल का बोझ उतार दो, मैं बहुत दिनों से उदास हूँ मुझे कोई शाम उधार दो।

    
 जब कभी फुर्सत मिले मेरे दिल का बोझ उतार 

 जब कभी फुर्सत मिले मेरे दिल का बोझ उतार
sad shayari in hindi 35

अभी एक टूटा तारा देखा, बिलकुल मेरे जैसा था, चाँद को कोई फर्क न पड़ा, बिलकुल तेरे जैसा था।

sad shayari in hindi 239

ऐ खुदा लोग बनाने थे पत्थर के अगर, तो मेरे एहसास को शीशे सा न बनाया होता।

    
 ऐ खुदा लोग बनाने थे पत्थर के अगर,
तो मेरे 

 ऐ खुदा लोग बनाने थे पत्थर के अगर,
तो मेरे
sad shayari in hindi 244

हमने तुम्हें उस दिन से और भी ज़्यादा चाहा है, जबसे मालूम हुआ तुम हमारे होना नही चाहते।

    
 हमने तुम्हें उस दिन से और भी ज़्यादा चाहा 

 हमने तुम्हें उस दिन से और भी ज़्यादा चाहा
sad shayari in hindi 228

उजड़ जाते हैं सर से पाँव तक वो लोग जो, किसी बेपरवाह से बे-पनाह मोहब्बत करते हैं।

    
 उजड़ जाते हैं सर से पाँव तक वो लोग 

 उजड़ जाते हैं सर से पाँव तक वो लोग
sad shayari in hindi 120

बहुत आसान है पहचान इसकी, , अगर दुखता नहीं तो दिल नहीं है।

    
 बहुत आसान है पहचान इसकी,
,
अगर दुखता नहीं तो दिल 

 बहुत आसान है पहचान इसकी,
,
अगर दुखता नहीं तो दिल
sad shayari in hindi 172

बहुत भीड़ हो गयी है तेरे दिल में, अच्छा हुआ हम वक़्त पर निकल गए।

sad shayari in hindi 255

बात करने को तरसा हूं, आवाज़ सुनने को तरसोगी।

    
 बात करने को तरसा हूं,
आवाज़ सुनने को तरसोगी। 

 बात करने को तरसा हूं,
आवाज़ सुनने को तरसोगी।
sad shayari in hindi 211

क़ाश कोई ऐसा हो, जो गले लगा कर कहे…, तेरे दर्द से मुझे भी तकलीफ होती है...।

    
 क़ाश कोई ऐसा हो,
जो गले लगा कर कहे…,
तेरे दर्द 

 क़ाश कोई ऐसा हो,
जो गले लगा कर कहे…,
तेरे दर्द
sad shayari in hindi 284

इश्क हमें जीना सिखा देता है, वफा के नाम पर मरना सिखा देता है।इश्क नहीं किया तो करके देखो जालिम, हर दर्द सहना सीखा देता है।।

    
 इश्क हमें जीना सिखा देता है,
वफा के नाम पर 

 इश्क हमें जीना सिखा देता है,
वफा के नाम पर
sad shayari in hindi 199

क्यों सताते हो मुझे यूँ दुरियाँ बढ़ाकर, क्या तुम्हे मालूम नहीं अधूरी हो जाती है तुझ बिन जिन्दगी।

    
 क्यों सताते हो मुझे यूँ दुरियाँ बढ़ाकर,
क्या तुम्हे मालूम 

 क्यों सताते हो मुझे यूँ दुरियाँ बढ़ाकर,
क्या तुम्हे मालूम
sad shayari in hindi 50

रहेगा किस्मत से यही गिला ज़िंदगी भर, जिसको पल-पल चाहा उसी को पल-पल तरसे।

sad shayari in hindi 174

जिसे दिल मे जगह दी थी वो ही सब बर्बाद कर गया...।

    
 जिसे दिल मे जगह दी थी वो ही सब 

 जिसे दिल मे जगह दी थी वो ही सब
sad shayari in hindi 122

तुम रख न सकोगे मेरा तोहफा संभालकर, वरना मैं अभी दे दूँ, जिस्म से रूह निकालकर...।

    
 तुम रख न सकोगे मेरा तोहफा संभालकर,
वरना मैं अभी 

 तुम रख न सकोगे मेरा तोहफा संभालकर,
वरना मैं अभी
sad shayari in hindi 103

Lagta hai zindagi kuch khafa hai, Chalo chhodiye konsa pehli dafa hai।

    
 Lagta hai zindagi kuch khafa hai,
Chalo chhodiye konsa pehli 

 Lagta hai zindagi kuch khafa hai,
Chalo chhodiye konsa pehli
sad shayari in hindi 15

जिंदगी सुन्दर हैं पर जीना नही आता, हर चीज मे नशा हैं, पर पीना नही आता। सब मेरे बगैर जी सकते हैं, बस मुझे ही किसी के बीना जीना नही आता।

    
 जिंदगी सुन्दर हैं पर जीना नही आता,
हर चीज मे 

 जिंदगी सुन्दर हैं पर जीना नही आता,
हर चीज मे
sad shayari in hindi 201

मुझे तेरे ये कच्चे रिश्ते जरा भी पसंद नहीं आते या तो लोहे की तरह जोड़ दे या फिर धागे की तरह तोड़ दे।

sad shayari in hindi 287

मोहब्बत के भी कुछ अंदाज़ होते हैं, जगती आँखों के भी कुछ ख्वाब होते हैं, जरुरी नहीं के ग़म में आँसू ही निकले, मुस्कुराती आँखों में भी शैलाब होते हैं।

    
 मोहब्बत के भी कुछ अंदाज़ होते हैं,
जगती आँखों के 

 मोहब्बत के भी कुछ अंदाज़ होते हैं,
जगती आँखों के

Share